keyboard in hindi

Share From Here

Keyboard

ldtutorial

ldtutorial



Keyboard एक बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है Computer का. यह एक Input device है. इसका इस्तमाल मुख्य रूप से computer में commands, text, numerical data और दुसरे प्रकार के data को enter करने के लिए किया जाता है.

Keboard  के Keys–

एक सामान्य Keyboard में कुल 104 Keys होती है. तथा इनकी संख्या Keyboard Manufactures और Operating System पर भी निर्भर करती है. इसलिए मोटे तौर पर हम कह सकते है कि एक QWERTY Keyboard में लगभग 100 Keys (±) होती है.

की-बोर्ड में मौजूद प्रत्येक कुंजी का अपना विशेष कार्य होता है. और इसी कार्य के आधार पर इनको निम्न छह श्रेणीयों में बाँटा गया है. जिनका वर्णन इस प्रकार है.

  1. Function Keys
  2. Typing Keys
  3. Control Keys
  4. Navigation Keys
  5. Indicator Lights
  6. Numeric Keypad

1. Function Keys

Function Keys Keyboard में सबसे ऊपर होती है. इन्हें Keyboard में F1 से F12 तक लिखा जाता है. Function Keys का उपयोग किसी विशेष कार्य को करने के लिए किया जाता है. इनका हर प्रोग्राम में अलग कार्य होता है.

F1 Function Key

का इस्तेमाल अधिकतर Programs में Help Center को खोलने के लिए किया जाता हैं.

F2 Function Key

का इस्तेमाल कई कार्यों के लिए किया जाता हैं. Files और Folders को Rename करना

F3 Function Key

का उपयोग Windows और Browsers में Search Option (Find) को Active करने के लिए किया जाता हैं.

F4 Function Key

का इस्तेमाल Window Explorer और Internet Explorer में Address Bar Active करने के लिए किया जाता हैं. लेकिन सबसे ज्यादा F4 Key का उपयोग Computer Shut Down करने के लिए किया जाता हैं. और इसके माध्यम से Active Window को भी बंद किया जा सकता हैं.

  • F4 – Open Address Bar
  • Alt+F4 – Close Active Window

F5 Function Key

का इस्तेमाल Browsers में Page या Document Windows को Reload करने के लिए किया जाता हैं.

F8 Function Key का उपयोग Windows में कुछ Advance Functions को Active करने के लिए किया जाता हैं. इसके द्वारा Windows को Safe Mode में Start किया जा सकता हैं.



2. Typing Keys

सबसे अधिक उपयोग इन्ही keys का होता है. Typing keys में दोनो तरह की keys (alphabet और numbers) शामिल होती है, इन्हे सामुहिक रूप में Alphanumeric keys कहा जाता है. Typing keys में सभी तरह के symbols तथा punctuation marks भी शामिल होते है.

3. Control Keys

इन keys को अकेले या अन्य keys के साथ कोई निश्चित कार्य करने में इस्तेमाल किया जाता है. एक सामान्य Keyboard में अधिकतर Ctrl key, Alt key, Window key, Esc key का उपयोग Control keys के रूप में किया जाता है. इनके अलावा Menu key, Scroll key, Pause Break key, PrtScr key आदि keys भी control keys में शामिल होती है.

4. Navigation Keys

Navigation keys में Arrow keys, Home, End, Insert, Page Up, Delete, Page Down आदि keys होती है. इनका use किसी document, webpage आदि में इधर-उधर जाने में होता है.

Home Key–

Home Key का use cursor को किसी दस्तावेज के शुरूआत मे लाने के लिए किया जाता है. इसकी सहायता से एक Webpage और Document के एक दम शुरूआत में आ सकते है.

End Key–

End Key का use cursor को किसी दस्तावेज के आखिर मे लाने के लिए किया जाता है. इसकी सहायता से एक Webpage और Document के एक दम नीचे जा सकते है.

Delete Key–

Delete Key का use Cursor के बाद के text, select किए हुए text तथा files एवं folder को delete करने के लिए किया जाता है

Page Up Key–

Page Up Key का use Cursor एवं किसी page को कुछ ऊपर सरकाने के लिए किया जाता है.

Page Down Key-

Page Down Key का use Cursor एवं किसी page को कुछ नीचे सरकाने के लिए किया जाता है.

5. Indicator Lights–

Keyboard में तीन तरह की Indicator light (संकेतक) होती है. Num Lock, Scroll Lock और Caps Lock.

6. Numeric Keypad–

इनका इस्तेमाल numbers लिखने में किया जाता है.